पंजाब में स्वास्थ्य अधिकारी की गोली मारकर हत्या, पिता ने कहा पहले से थी प्लानिंग, सीएम ने दिए जांच के आदेश

चैतन्य भारत न्यूज।

चंडीगढ़। पंजाब के खरड़ में पुरानी रंजिश के चलते वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी नेहा शौरी की शुक्रवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मामले में उनके पिता कैप्टन कैलाश कुमार (रिटायर्ड) का कहना है कि उनकी बेटी की हत्या प्लानिंग के तहत की गई है इसमें ड्रग माफिया का हाथ है।उन्होंने उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हत्या की जांच के आदेश दिए हैं।

10 साल पुरानी रंजिश में की थी हत्या

10 साल पुरानी रंजिश के चलते एक शख्स ने जोनल लाइसेंसिंग अथॉरिटी के पद पर तैनात महिला अधिकारी नेहा शौरी की हत्या कर दी। नेहा ने साल 2009 में ड्रग इंस्पेक्टर के पद पर रहने के दौरान आरोपी की दवा की दुकान का लाइसेंस कैंसल किया था, जिसके बाद से वह नेहा से रंजिश रखने लगा था। घटना के बाद देशभर के लोगों में गुस्सा है और वे उनके लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं।

खुद को भी मारी गोली

स्वास्थ्य अधिकारी नेहा शौरी को गोली मारने के बाद आरोपी बलविंदर सिंह ने खुद को भी गोली मार ली, फिलहाल उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

बैग में रखकर लाया था रिवॉल्वर

शुक्रवार सुबह जब नेहा खरड़ स्थित अपने दफ्तर में मौजूद थीं तो आरोपी ने सुबह लगभग 11 बजे उनके कार्यालय में घुसकर 32 बोर लाइसेंसी रिवॉल्वर से तीन गोलियां मारकर उनकी हत्या कर दी। आरोपी बैग में रिवॉल्वर लेकर आया था।

Related posts