कोरोना लॉकडाउन: मोदी सरकार ने अब इन क्षेत्रों में भी दी छूट

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। इसे रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन को 3 मई तक लिए बढ़ा दिया है। लॉकडाउन के दूसरे चरण में सरकार ने कई छूट का ऐलान किया है। गृह मंत्रालय ने अब कुछ और भी क्षेत्रों में छूट देने की घोषणा की है। आइए जानते हैं सरकार ने इस बार किन-किन क्षेत्रों में छूट दी है।


कृषि क्षेत्र : जंगलों में अनुसूचित जनजातियों और वहां रहने वाले अन्य लोग लघु वन उपज (MFP) या फिर गैर इमारती लकड़ी को जमा कर सकते हैं। साथ ही वे उनकी कटाई भी कर सकते हैं। इसके अलावा बांस, नारियल, सुपारी, कॉफी के बीज, मसाले की रोपाई और उनकी कटाई, पैकेजिंग, और बिक्री कर सकते हैं।

फाइनेंशियल सेक्टर: गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थान (NBFC) जिनमें हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां (HFCs) और माइक्रो फाइनेंस इंस्टीट्यूशंस (NBFC-MFI) शामिल हैं, जिनमें कम से कम कर्मचारी हो। सरकार ने सहकारी समितियां को भी काम करने की इजाजत दी गई है।

निर्माण क्षेत्र : ग्रामीण क्षेत्रों में निर्माण गतिविधियां, पानी की आपूर्ति और स्वच्छता, बिजली के तार बिछाना/ निर्माण और संबंधित गतिविधियों के साथ दूरसंचार ऑप्टिकल फाइबर और केबल को बिछाना भी शामिल है।

बता दें इससे पहले केंद्र सरकार ने खाने-पीने और दवा बनाने वाली तमाम इंडस्ट्रीज खुली रहने का आदेश दिया था। इसके साथ ही ग्रामीण भारत में सारे कल-कारखाने खोलने का निर्देश दिया गया था। इसके अलावा कृषि, बागवानी, खेती, कृषि उत्पादों की खरीद, ‘मंडियां’ शामिल होंगी को छूट दी गई थी। साथ ही एजेंसियां किसानों की उपज खरीद सकेंगी। मनरेगा के तहत कार्यों को जारी रखने की अनुमति दी गई थी। इसके अलावा राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे निर्माण कार्यों को रियायत दी गई थी। सभी लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कहा गया है।

ये भी पढ़े…

कोरोना लॉकडाउन : 20 अप्रैल से इन जरूरी कारोबार-उद्योगों में मिलेगी छूट, सरकार ने जारी किए निर्देश

कोरोना लॉकडाउन: 3 मई तक ये 12 काम नहीं कर सकेंगे आप, सरकार ने जारी किए दिशा-निर्देश

 3 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, पीएम मोदी ने की अनुशासन के साथ घर में रहने की अपील

 

Related posts