शादी से पहले संबंध और लिव-इन को अपराध बताने वाले विधेयक पर इंडोनेशिया में हिंसक प्रदर्शन

indonesia protest for bill

चैतन्य भारत न्यूज

इन दिनों इंडोनेशिया में ‘शादी से पहले संबंध’ बनाने पर पाबंदी को लेकर खूब विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है, जो धीरे-धीरे हिंसा में बदल रहा है। इस विवादित विधेयक को लेकर इंडोनेशिया के कई शहरों में प्रदर्शन हो रहा है। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए उनपर आंसू गैस के गोले और वॉटर कैनन का इस्तेमाल किया जा रहा है।



दरअसल इस बिल में ज्यादातर मामलों में गर्भपात को और राष्ट्रपति के अपमान को गैरकानूनी बताया गया है। हालांकि, विरोध होने के कारण यह बिल पास नहीं हो सका है। लेकिन प्रदर्शनकारियों को चिंता है कि बाद में इसे पास करा दिया जाएगा। आइए जानते हैं इस विवादित बिल में क्या है?

  • इस बिल में शादी से पहले सेक्स को दंडनीय अपराध माना गया है। साथ ही इसके अपराधी को एक साल जेल की सजा का भी प्रावधान है।
  • इस बिल में शादी से पहले साथ रहने और लिव-इन में रहने को भी अपराध माना गया है। इसके लिए भी छह महीने तक की जेल की सजा का प्रावधान है।
  • बिल में राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, धर्म, सरकारी संस्थाओं और राष्ट्रीय प्रतीकों का अपमान करना गैरकानूनी माना है।
  • बिल में गर्भपात को दंडनीय अपराध बताया गया है। बलात्कार और मेडिकल इमर्जेंसी के अलावा अन्य स्थितियों में गर्भपात कराने पर बिल में चार साल जेल की सजा का प्रावधान है।

बता दें इस विधेयक पर पहले मंगलवार को ही मतदान होना था लेकिन फिर राष्ट्रपति जोको विडोडो ने इसे शुक्रवार तक के लिए टाल दिया है। राष्ट्रपति का कहना है कि, इस विधेयक पर यह विचार किए जाने की जरुरत है कि आखिर लोग इस पर क्यों विरोध कर रहे हैं।

 

ये भी पढ़े…

लिव-इन-रिलेशनशिप की तुलना में शादीशुदा महिलाएं होती हैं ज्यादा खुशः संघ

VIDEO : देखते ही देखते खून की तरह लाल हो गया इंडोनेशिया का आसमान, जानिए वजह

जकार्ता के डूबने के डर से सहमा इंडोनेशिया, लिया राजधानी बदलने का फैसला

 

Related posts