हर नई मां करती हैं ये गलतियां, बच्चे की परवरिश के लिए ध्यान रखें ये जरुरी बातें

new moms,tips for new moms

चैतन्य भारत न्यूज

मां बनना हर महिला के लिए अलग खुशी होती है और एक अलग अनुभव भी। वहीं बच्चों की परवरिश भी मां के लिए कम चुनौतीपूर्ण नहीं होती। लेकिन परिवरिश के मामले में देखा गया है कि नई मां को अधिक परेशानी आती है। पहला अनुभव होने से वे कई बातें समझ नहीं पातीं। आइए जानते हैं नई मां किस तरह की गलतियां करती हैं।



अधिक चिंतित

नौ महीने के बाद जब महिला अपने बच्चे को जन्म देती है, तो उस बच्चे से वह बहुत गहराई से जुड़ी होती है। ऐसे में बच्चे का एक पल भी दूर होना उसे अखरता है। नई मां अक्सर यह गलती करती है कि वह बच्चे को खुद से बिल्कुल भी अलग नहीं रखती है और उसको लेकर कुछ ज्यादा चिंतित हो जाती है। नई मां को चाहिए कि वह बच्चे को दादा-दादी को भी दें। कुछ समय उनके साथ खेलने दें। ये न सोचे कि बच्चा उसके पास ही सुरक्षित है व किसी और के पास वह खुश नहीं होगा। हर समय उसको लेकर चिंता में न रहें।

खुद की उपेक्षा

नई मां यह भी गलती करती है कि बच्चा होने के बाद वह खुद का ख्याल रखना बंद कर देती है। बल्कि नई-नई मां बनी महिलाओं को बच्चे के साथ अपना भी ध्यान रखना चाहिए। बच्चे के होने के बाद खुद की सेहत को लेकर लापरवाही न बरतें। छोटे बच्चे की देखरेख से अधिक थकान हो जाती है। इसलिए नई मां ठीक से आराम करें और पूरी नींद लें। क्योंकि नई मां जितनी स्वस्थ और खुश रहेंगी उसका बच्चा भी उतना ही बेहतर महसूस करेगा। बच्चे के कारण खुद का ख्याल न रखने से बच्चे की परवरिश भी प्रभावित होती है।

जल्द घबरा जाना

अक्सर देखा गया कि बच्चे की तबीयत खराब होने पर मां बहुत परेशान हो जाती है। वह बच्चे की छोटी-छोटी बातों को लेकर घबरा जाती है। वह ज्यादा उल्टी कर रहा है? कहीं वो ज्यादा या कम तो नहीं खा रहा? ऐसी छोटी-मोटी बातों को लेकर नही मां अधिक चिंतित हो जाती है। नई मां को चाहिए को वह छोटी-छोटी बातों पर परेशान न रहें। जरुरी होने पर ही एक्सपर्ट की मदद ले सकती हैं।

हर पल जिएं

नई मां अपने बच्चे की एक हर एक गतिविधि को कैमरे में कैद करना चाहती हैं। नई मां बच्चे की पहली मुस्कान से लेकर पहली बार उसके रोने तक की हर तस्वीर खींचने की कोशिश करती है। ऐसे मौकों को तस्वीरों में कैद करने से ज्यादा जरुरी है उनको जीना। बच्चे की हर हरकत को महसूस करें और उन पलों का आनंद उठाएं।

ये भी पढ़े…

ब्रेस्टफीडिंग से जुड़े ये 6 मिथ जिन पर कभी न करें विश्वास

ये है विश्व का सबसे अनोखा देश, जहां 7 से अधिक बच्चे पैदा करने पर मां को दिया जाता है स्वर्ण पदक

Related posts