कोरोनावायरस: भारत का सबसे कड़ा लॉकडाउन आज से इंदौर में शुरू, सब्जी, किराना, पेट्रोल पंप सब बंद

चैतन्य भारत न्यूज

इंदौर. मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। यहां अब तक कोरोना के पॉजिटिव मरीजों की संख्या 32 तक पहुंच गई है जबकि तीन लोगों की मौत हो चुकी है। शहर में संक्रमण बढ़ता देख प्रशासन ने इंदौर में देश का सबसे ज्यादा लॉकडाउन शुरू कर दिया है। इंदौर में लॉकडाउन को इतना कड़ा कर दिया है कि दूध, सब्जी, किराना, पेट्रोल पंप और तक बैंक बंद रहेंगे।

8 पॉजिटिव मरीज मिले

बता दें राज्य में इंदौर में कोरोना का सबसे ज्यादा प्रभाव दिख रहा है। सोमवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक, इंदौर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो गई है। शहर में 8 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इनमें से 7 इंदौर और 1 उज्जैन का है। संक्रमण बढ़ता देख रविवार शाम संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने शहर के आला अधिकारियों की उच्च स्तरीय बैठक ली। बैठक के दौरान उन्होंने कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कड़े निर्णय लिए। बैठक में जिला कलेक्टर, इंदौर डीआईजी, आईजी, निगमायुक्त और स्वास्थ्य विभाग से जुड़े आला अधिकारी शामिल हुए थे।

दूध, सब्जियों की बिक्री बंद

जानकारी के मुताबिक, बैठक में सबसे पहले चोइथराम सब्जी मंडी को पूरी तरह से आगामी आदेश तक बंद करने का निर्णय लिया गया। प्रशासन ने यह भी साफ कहा है कि 3 दिन के संपूर्ण बंद के दौरान 2 दिनों तक दूध की बिक्री भी नहीं होगी। हालांकि मेडिकल स्टोर खुले रहेंगे। मीडिया से बातचीत के दौरान जिला कलेक्टर मनीष सिंह ने सभी से घरों के अंदर रहने की अपील की है। उन्होंने सख्त लहजे में यह भी कहा है कि अगर कोई बंद के दौरान बाहर निकलता है, उस पर कानूनी कार्रवाई कर उन्हें अस्थायी जेल में भेज दिया जाएगा।

मैरिज गार्डन्स बनेंगे अस्थायी जेल

जिला कलेक्टर ने बताया कि, ‘मैरिज गार्डन्स को अस्थायी जेल में तब्दील किया जाएगा। इसके अलावा गिरफ्त में आए लोगों के स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखा जाएगा।’ कलेक्टर के मुताबिक, अगले 2 से 3 दिनों में रानीपुरा, हाथीपाला, खजराना और चन्दननगर क्षेत्र को सैनिटाइज किया जाएगा और प्रशासन का फोकस भी इन क्षेत्रों में ज्यादा रहेगा। प्रशासन ने इंदौर में सोमवार से 3 दिन तक सम्पूर्ण लॉकडाउन कर रखा है।

दूध सप्लाई बंद होने पर विरोध

दूध का सप्लाई बंद होने के कारण शहर में इसका विरोध शुरू हो गया। इसके बाद कलेक्टर ने सोमवार को शाम 5 से 7 बजे तक दूध बांटने का आदेश दिया। वहीं मंगलवार को सुबह 6 बजे से 9 बजे तक दूध बांट सकते हैं।

ये भी पढ़े…

कोरोनावायरस: लॉकडाउन के दौरान पीएम मोदी किस तरह बिता रहे हैं समय, मन की बात में बताया

कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए आगे आई ये एक्ट्रेस, नर्स बनकर मुंबई के अस्पताल में कर रही लोगों की सेवा

Coronavirus: सरकार ने बताया कोरोना वायरस से कैसे बचें? जानें क्या करें और क्या ना करें

Related posts