पाकिस्तान विमान हादसे में 97 लोगों की मौत, इन दो लोगों की चमत्कारिक रूप से बची जान

चैतन्य भारत न्यूज

कराची. शुक्रवार को पाकिस्तान के कराची में हुए विमान हादसे में 97 लोगों की मौत हो गई। पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) का एक यात्री विमान शुक्रवार को कराची के जिन्ना अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के पास घनी आबादी वाले रिहाइशी इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में दो लोग चमत्कारिक रूप से बच गए।

अधिकारियों के मुताबिक, विमान लाहौर से आ रहा था और कराची उतरने ही वाला था कि एक मिनट पहले मालिर में मॉडल कॉलोनी के निकट जिन्ना गार्डन में क्रैश हो गया। इस घटना में 97 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है। खबर में बताया गया कि जीवित बचे दोनों लोगों की हालत स्थिर है और 19 मृतकों की शिनाख्त कर ली गई है।

राष्ट्रीय विमानन कंपनी के एयरबस ए320 में 91 यात्री और 08 क्रू सदस्य सवार थे। विमान में सवार यात्रियों में मुहम्मद जुबैर नामक नौजवान इंजीनियर जीवित बचा है। फिलहाल जुबैर की हालत स्थिर बनी हुई है। सीनेटर सईद घानी जो पाकिस्तान के शिक्षा और श्रम मंत्री भी हैं, उन्होंने ही जुबैर की तस्वीर ट्वीट की है।

कैसे बची जान

बैंक ऑफ पंजाब के प्रेसिडेंट जफर मसूद भी इस हादसे में बच गए हैं। अस्पताल प्रशासन के मुताबिक, जफर मसूद को इस हादसे में कूल्हे की हड्डी में चोट लगी है और उनका कॉलर बोन फ्रैक्चर हुआ है। वैसे तो इस बात की पक्की जानकारी नहीं है कि जफ़र बचे कैसे, लेकिन कुछ अनुमान जरूर लगाए जा रहे हैं। दरअसल, अधिकतर प्लेन हादसों में यह देखा गया है कि प्लेन का पिछला हिस्सा अक्सर बच जाता है। इसी वजह से इसी हिस्से में ब्लैक बॉक्स भी लगाया जाता है। माना जा रहा है कि जो लोग जहां के पिछले हिस्से में बैठे होंगे, उनके ही बचने की संभावना है। उनमें से भी जिन्होंने सीट बेल्ट लगाई होगी, उनके बचने की संभावना अधिक है।

Related posts