चालान के लिए नहीं बल्कि इस वजह से यूपी पुलिस ने शख्स के साथ की मारपीट, ये है वायरल वीडियो का सच

policeman beaten man

चैतन्य भारत न्यूज

सोशल मीडिया पर उत्तरप्रदेश के दो पुलिस वालों का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में पुलिस वालों को एक शख्स की बेरहमी से पिटाई करते हुए देखा जा सकता है। वीडियो शेयर कर ये दावा किया जा रहा है कि, सिद्धार्थनगर जिले में गाड़ी चेकिंग के दौरान मुंह मांगा रुपया न मिलने के कारण और हेलमेट व गाड़ी के कागज न दिखाने के कारण पुलिस वालों ने युवक को बेरहमी से पीटा’।


यह वीडियो सिद्धार्थनगर जिले के खेसरहा का है जो 10 सितंबर का बताया जा रहा है। वीडियो में दिख रहा है कि दोनों पुलिस वाले एक युवक की बेरहमी से पिटाई कर रहे हैं। उस युवक का भतीजा इस घटना से डरा हुआ था और पुलिस वालों से उसके चाचा को माफ करने की भी अपील करता रहा। दरोगा युवक के कंधे पर बैठकर उसके पैरों को बूटों से दबाने लगा और उसकी खूब पिटाई की। इस दौरान पिटने वाला व्यक्ति उनसे अपनी गलती पूछता रहता है।

क्या है मामला

खेसरहा में सकरपुर नाम के चौराहे से जब मुहर्रम का जुलूस निकलने वाला था, उस दौरान रियाजुद्दीन उर्फ राजू और रिंकू पांडे के बीच किसी बात को लेकर झगड़ा होने लगा। ऐसे में एक अख्तर नामक लड़के ने झगड़े की सूचना पुलिस को दी थी। जब पुलिस वहां पहुंची तो रिंकू ने उनसे बदतमीजी की और उन्हें गालियां भी देने लगा। इस वजह से पुलिस वालों ने रिंकू की पिटाई की। यहां वाहन चेकिंग या गाड़ी के कागज दिखाने जैसी कोई बात नहीं हुई थी।


दोनों पुलिस वाले हुए सस्पेंड

जिस समय दारोगा विरेंद्र मिश्र और सिपाही महेंद्र प्रसाद ने रिंकू पांडे की पिटाई की तब रिंकू शराब के नशे में था। सिद्धार्थनगर जिले के एसपी धरमवीर सिंह ने कहा कि, उन्होंने जांच में पाया कि पूरे मामले में दोनों पुलिस वालों का रवैया ठीक नहीं रहा, इसलिए उन दोनों पुलिस वालों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। दोनों पुलिस वालों के खिलाफ आईपीसी की धारा-323, 504,और 166 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

Related posts