उज्जैन : क्षिप्रा नदी में हो रहे धमाके, उठी आग की लपटें, अंगारे और धुआं, वैज्ञानिकों ने शुरू की जांच

चैतन्य भारत न्यूज

उज्जैन. क्षिप्रा नदी में शनि मंदिर के सामने वाले हिस्से में त्रिवेणी बैराज के पास पानी में भूगर्भीय विस्फोट को लेकर लोग दहशत में हैं। यहां… धुआं निकलने के साथ-साथ चमकदार रोशनी एवं पानी को उछलते हुए भी देखा गया। इसके बाद से वैज्ञानिक मामले की जांच में जुट गए गए हैं।

जानकारी के मुताबिक, क्षिप्रा नदी में इस नदी में बीते कुछ दिनों से लगातार धमाके हो रहे हैं, जिसके बाद स्थानीय प्रशासन सतर्क हो गया है। यह धमाके त्रिवेणी स्टॉपडेम के पास बने घाट के सामने हो रहे हैं। नदी में से चिंगारी और धुआं भी निकल रहा है। पहला धमाका 26 फरवरी को हुआ जिसके बाद रोज़ाना कुछ समय के अंतराल पर यह धमाके हो रहे हैं।

बता दें नदी में जिस जगह धमाके हो रहे थे वहां से कुछ ही दूरी पर पूर्णिमा या अमावस्या का स्नान होता है। ऐसे में स्थानीय गांव वालों में धमाकों के बाद दहशत का माहौल है। फिलहाल यहां जल संसाधन विभाग के एक कर्मचारी को तैनात कर दिया गया है। स्थानीय कलेक्टर आशीष सिंह ने भी नदी के उस क्षेत्र का दौरा किया है जहां धमाके हो रहे हैं।

इंदौर के भू-वैज्ञानिक करेंगे जांच

कलेक्टर ने बताया कि उज्जैन के भू-वैज्ञानिकों को भी इस मामले का कारण पता करने को कहा गया है और वे जांच में जुटे हुए हैं। उन्होंने कहा कि इंदौर के भू-वैज्ञानिकों का दल भी यहां पहुंच जाएगा और जांच करेगा। सिंह ने बताया कि इसके अलावा, हमने भारतीय भू-वैज्ञानिक सर्वेक्षण को भी इस घटना के बारे में ई-मेल कर सूचित कर दिया है। ऐहतिहयाती तौर पर फिलहाल त्रिवेणी क्षेत्र के नदी घाटों पर दर्शनार्थियों का स्नान बंद कर दिया गया है और पुलिस बल को तैनात कर दिया है, ताकि किसी अनहोनी को टाला जा सके।

Related posts