उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता का हुआ अंतिम संस्कार, दादा-दादी की समाधि के पास दफनाया गया

unnav

चैतन्य भारत न्यूज

उन्नाव. उन्नाव सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता के शव को शनिवार देर शाम दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल से उसके गांव लाया गया। रविवार को पीड़िता का अंतिम संस्कार उसी के गांव में किया गया।



पहले पीड़िता के परिवार की मांग की थी कि जब तक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नहीं आएंगे, तब तक अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा। लेकिन फिर पुलिस प्रशासन के आला अधिकारियों ने परिवार से बात की और उन्हें अंतिम संस्कार के लिए मनाया। जानकारी के मुताबिक, जिला प्रशासन के अधिकारियों ने पीड़िता की बहन को सरकारी नौकरी देने का आश्वासन दिया है, जिसके बाद परिजन उसके अंतिम संस्कार के लिए मान गए।

दादा-दादी की समाधि के पास दफनाया

शव के गांव पहुंचते ही वहां भारी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात कर दिए गए। दमकल की गाड़ियां भी मौके पर मौजूद हैं। गांव में पुलिस-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी सुबह से ही डेरा डाले हुए हैं। बताया जा रहा है कि कड़ी सुरक्षा के बीच शव को गांव के बाहर एक खेत में उनके दादा-दादी की समाधि के पास ही दफना दिया गया। पीड़िता के अंतिम संस्कार के दौरान मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य और कमल रानी वरुण के अलावा मेश्राम और अन्य आला अधिकारी भी मौजूद थे।

Gang Rape,Unnao Gang Rape Death

दुष्कर्म आरोपितों ने जिंदा जलाया 

गौरतलब है कि पीड़िता को आरोपितों ने जिंदा जलाने की कोशिश की थी, जिसके बाद पीड़िता करीब एक किमी तक भागती हुई भी गई थी। फिर उसने खुद ही पुलिस को फोन किया और अपनी हालत के बारे में बताया। जिसके बाद युवती को लखनऊ रेफर किया गया और फिर बाद में तुरंत एयर एंबुलेंस से दिल्ली पहुंचाया गया। 95 फीसदी जलने के बाद भी पीड़िता ने जीने की उम्मीद नहीं छोड़ी थी और अपने भाई से कहा था कि, ‘वह मरना नहीं चाहती है।’

परिवार ने की इंसाफ की मांग

पीड़िता की मौत के बाद जहां लोगों में भारी गुस्सा है तो वहीं पीड़िता के परिवार वाले इंसाफ की मांग कर रहे हैं। पीड़िता के भाई ने कहा कि ‘मुझे इस मामले पर और कुछ भी नहीं कहना है। मेरी बहन अब मेरे साथ नहीं रही। मेरी सिर्फ एक मांग है कि इन पांचों आरोपियों को फांसी होनी चाहिए, उससे कम और कुछ नहीं।’

ये भी पढ़े…

उन्नाव बना उत्तर प्रदेश का रेप कैपिटल 2019 में दर्ज हुए 86 बलात्कार और 185 छेड़छाड़ के मामले

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के परिजनों से मिलने पहुंची प्रियंका गांधी, कहा- एक साल से परिवार पर हो रहा जुल्म, सुना है दोषियों का है बीजेपी कनेक्शन

उन्नाव रेप : पीड़िता के पिता की मांग- दरिंदों को हैदराबाद की तरह दौड़ाकर मारो, भाई ने कहा- जलाने लायक नहीं बचा शव

 

Related posts