UP का पहला पेपरलेस बजट पेश, अयोध्या के लिए 140 करोड़ का ऐलान, तो कोरोना वैक्सीन के लिए 50 करोड़

चैतन्य भारत न्यूज

लखनऊ. उत्तरप्रदेश में आज आने वाले वित्त वर्ष के लिए बजट पेश किया गया। वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने सोमवार को योगी सरकार का पांचवां बजट पेश किया। यह पेपरलेस बजट था। यूपी सरकार का ये बजट कुल 5.50 लाख करोड़ का है, जो अभी तक का सबसे बड़ा बजट है। अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पेश हुए इस बजट में किसानों के मुफ्त पानी, सस्ता लोन, कोरोना वैक्सीन के लिए राशि, प्रदेश में एक्सप्रेस-वे और मेट्रो के जाल बिछाने का ऐलान किया गया है।

अयोध्या एयरपोर्ट का नाम ‘मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम एयरपोर्ट’

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने अयोध्या में बन रहे हवाई अड्डे के लिए 101 करोड़ रुपए दिए जाने का प्रस्ताव रखा। उन्होंने कहा कि अयोध्या में बन रहे हवाई अड्डा का नाम मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम एयरपोर्ट होगा। सुरेश खन्ना ने कहा कि अयोध्या में निर्माणाधीन हवाई अड्डे का नाम मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के नाम पर रखा जाएगा। इसके लिये 101 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। वित्त मंत्री के इस कथन का सदन के सदस्यों ने मेजें थपथपाकर स्वागत किया और सदन में ‘जय श्री राम’ के नारे भी लगाये गये।

अयोध्या के लिए ऐलान

वित्त मंत्री ने ऐलान किया कि अयोध्या स्थित सूर्यकुण्ड के विकास सहित अयोध्या नगरी के सर्वांगीण विकास की योजना हेतु वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट 140 करोड़ रुपए की व्यवस्था का प्रस्ताव है। लखनऊ में राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल के निर्माण हेतु 50 करोड़ रुपए की व्यवस्था प्रस्तावित छै।

कोरोना वैक्सीन के लिए 50 करोड़ का बजट

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने ऐलान किया कि मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना लाई जा रही है, जिससे श्रमिकों को मदद की जाएगी। महिला श्रमकों को बराबरी की दिहाड़ी दिलाने के लिए सलाहकार कमेटी बनाई गई है। प्रदेश के 18 मंडलों में अटल आवासीय विद्यालय बनाए जाएंगे, जहां श्रमिकों के बच्चों को शिक्षा दी जाएगी।

सुरेश खन्ना ने गोवंश के सरंक्षण के लिए योजना चलाई जा रही है, अलग-अलग जगह पर गोशाला बनाई गई है। इसे आगे बढ़ाया जाएगा, अलग-अलग जगहों पर आश्रय स्थलों की संख्या को बढ़ाई जाएगी।

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने ऐलान किया कि टीकाकरण के लिए 50 करोड़ रुपएप्रस्तावित हैं, जबकि आयुष्मान भारत के लिए 13 करोड़ रुपए प्रस्तावित हैं। प्रदेश के PPP मॉडल से मेडिकल कॉलेज बनाए जा रहे हैं। वित्त मंत्री बोले कि सात जनपदों में मेडिकल कॉलेज बनाए जा रहे हैं, अन्य जगहों पर भी नए मेडिकल कॉलेज बनने हैं।

किसानों के लिए बड़ा ऐलान

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बजट भाषण में कहा कि प्रदेश में अधिक उत्पादक वाली फसलों को चिन्हित किया जाएगा। ब्लॉक स्तर पर कृषक उत्पादन संगठनों की स्थापना की जाएगी, इसके लिए 100 करोड़ रुपए दिए जाएंगे। किसानों को मुफ्त पानी की सुविधा के लिए 700 करोड़ रुपए दिया जाएगा। किसानों को रियायती दाम पर लोन देने का ऐलान किया गया है।

खादी और ग्रामोद्योग

मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना के तहत सामान्य महिला एवं आरक्षित वर्ग के लाभार्थियों को दस लाख रुपये तक ब्याज रहित ऋण तथा सामान्य वर्ग के पुरुष लाभार्थियों को चार प्रतिशत वार्षिक ब्याज पर बैंकों के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराने की व्यवस्था। माटीकला की परम्परागत कला एवं कारीगरों को संरक्षित-संवर्धित करने के लिए बजट में दस करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित।

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग के लिए घोषणाएं

प्रदेश में एक जिला- एक उत्पाद योजना के लिए 250 करोड़ रुपए की घोषणा।
उत्तर प्रदेश स्टेट स्पिनिंग कंपनी की बंद पड़ी कताई मिलों की परिसंपत्तियों को पुनर्जीवित कर पीपीपी मोड में औद्योगिक पार्क/आस्थान/क्लस्टर स्थापित कराए जाने का निर्णय। इसके लिए 100 करोड़ रुपए की व्यवस्था।
मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लिए 100 करोड़ रुपए की व्यवस्था।
शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के पारंपरिक कारीगरों के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लिए 30 करोड़ रुपए बजट की व्यवस्था।

आईटी एवं इलेक्ट्रानिक्स के लिए घोषणाएं

यमुना एक्सप्रेस वे में जेवर एअरपोर्ट के समीप एक इलेक्ट्रानिक सिटी की स्थापना। बुंदेलखंड में रक्षा इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग क्लस्टर की स्थापना का लक्ष्य।

Related posts