CAA : जुमे की नमाज से पहले पूरे प्रदेश में अलर्ट, यूपी के 21 शहरों में इंटरनेट बंद

चैतन्य भारत न्यूज

लखनऊ. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ देशभर में प्रदर्शन जारी है। शुक्रवार को दोबारा प्रदर्शन की आशंकाओं को देखते हुए उत्तर प्रदेश में सख्ती ज्यादा बढ़ा दी गई है। यूपी के कई जिलों में इंटरनेट सेवाओं पर रोक है।



बता दें बीते शुक्रवार को जुमे की नमाज से पहले यूपी के कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन हुआ था। इसके बाद से कई शहरों में हाई अलर्ट जारी है। पूरे प्रदेश में पहले से ही धारा 144 लागू है। 27 दिसंबर यानी आज फिर जुमे की नमाज है। इस दौरान सोशल मीडिया पर कोई भ्रामक मैसेज न वायरल हो, इसलिए प्रशासन ने यूपी के 15 शहरों में इंटरनेट सेवा को बंद कर दी है। इनमें राजधानी लखनऊ, गाजियाबाद, मेरठ, अलीगढ़, सहारनपुर, बुलंदशहर, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, शामली, संभल, फिरोजाबाद, मथुरा आगरा, कानपुर और सीतापुर आदि शामिल हैं।

जानकारी के मुताबिक, मेरठ और अलीगढ़ में गुरुवार रात 10 बजे से ही इंटरनेट बैन का आदेश दिया गया है। इसके अलावा पश्चिम यूपी के संवेदनशील मुजफ्फरनगर जिले में 28 दिसंबर तक इंटरनेट बंद रखा गया है। न सिर्फ इंटरनेट बल्कि SMS सेवाओं पर भी रोक लगा दी गई है।

यूपी पुलिस के DGP ओपी सिंह ने कहा है कि, ‘प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर पूरी तरह से कंट्रोल में है, हम लगातार हर स्थिति पर नजर बनाए हुए है। अभी तक कुल 21 जिलों में इंटरनेट को बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि हम किसी निर्दोष को नहीं पकड़ रहे हैं, लेकिन जो हिंसा में शामिल होगा उसे नही छोड़ा जाएगा।’

ये भी पढ़े…

नागरिकता कानून पर बवाल, विरोध में सत्याग्रह पर बैठी कांग्रेस, सोनिया-राहुल-मनमोहन ने पढ़ा संविधान का प्रस्तावना

उप्र में नागरिकता कानून पर बवाल, 9 लोगों की मौत, 21 जिलों में इंटरनेट बैन, 31 जनवरी तक धारा 144 लागू

नागरिकता संशोधन कानून पर बोले रजनीकांत, ट्वीटर पर लोगों ने जमकर किया ट्रोल

Related posts