महिलाओं और क्षय रोगियों को दी जा रही राशि का सदुपयोग करेंः राज्यपाल

चैतन्य भारत न्यूज।

भोपाल। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने आज चित्रकूट में स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि महिलाओं और क्षय रोगियों को पोषण आहार के लिए दी जाने वाली राशि का सदुपयोग पता करने की जवाबदारी आशा कार्यकर्ताओं एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को सौंपी जाए। उन्होंने कहा कि हितग्राहियों के बैंक खातों में उनके कल्याण के लिए जो राशि जा रही है, उसके उपयोग के प्रति सजग रहना आवश्यक है।

विभागों के संयुक्त प्रयास की जरूरत

राज्यपाल ने कहा कि कुपोषण, क्षय रोग, महिला प्रसूति, स्वच्छता, शौचालय, ऐसे मुद्दे हैं, जिनमें सभी विभागों के संयुक्त प्रयास की जरूरत है। क्षय रोग, कुपोषण के प्रति गांव वालों के साथ ही पुलिस महकमे को भी जोड़ा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि संयुक्त प्रयास होंगे, तो कार्य अच्छा होगा। उन्होंने कहा कि क्षय रोगी बच्चों को मध्यान्ह भोजन अधिक और फल आदि दिया जाना चाहिए। यह भी पता किया जाए कि जिन क्षय रोगी बच्चों का इलाज किया गया, वह रोग से मुक्त हो पाए हैं कि नहीं। राज्यपाल ने मातृ-शिशु मृत्यु दर घटाने की दिशा में किए जा रहे प्रयासों की जानकारी भी ली।

 

Related posts