उत्तराखंड त्रासदी: 25 जिंदगियां बचाने वाली इस महिला को 5 लाख रुपए देगी सपा, अखिलेश ने सरकार से की यह मांग

akhilesh yadav,delhi chunav 2020

चैतन्य भारत न्यूज

लखनऊ. ऋषिगंगा की जल प्रलय के बाद से ही प्रभावित क्षेत्र में राहत-बचाव कार्य जारी है। 14 दिनों से मलबे में शवों की खोज की जा रही है। अब तक आपदा में मरने वालों की संख्या 60 के पार पहुंच गई है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को उत्तराखंड त्रासदी को लेकर ट्वीट किया है।

सपा ने सरकार से की यह मांग

अखिलेश यादव ने लिखा, ‘जिस जागरूक मां ने उत्तराखंड हादसे में अपने बेटे की ही नहीं, बल्कि 25 और लोगों की भी जान बचाई उन्हें समाजवादी पार्टी 5 लाख रुपए से सम्मानित करेगी।’ दरअसल, चमोली में हुई त्रासदी से पहले मंगश्री देवी ने फोन द्वारा अपने बेटे समेत 25 लोगों की जान बचाई थी। साथ ही अखिलेश ने यह भी लिखा कि, ‘उप्र सरकार से सपा की मांग है कि वो इस हादसे में लापता उप्र के निवासियों के परिवारों को 20-20 लाख का मुआवज़ा दे।’

किस तरह बचाई 25 जिंदगियां

27 वर्षीय युवक विपुल कैरेनी तपोवन में एनटीपीसी जलविद्युत परियोजना में भारी मोटर वाहन चालक का काम करता है। 7 फरवरी को वह तपोवन बैराज पर काम कर रहा था। तभी उसकी मां मंगश्री देवी ने ऋषि गंगा में सैलाब आने से ठीक पहले विपुल को फोन किया और चेतावनी दी। मंगश्री देवी ने विपुल को और उसके साथियों समेत वैराज से दूर भागने के लिए कहा, लेकिन विपुल उस वक्‍त अपनी मां की चेतावनी को नजरअंदाज कर काम करता रहा। लेकिन उसकी मां ने दोबारा फोन कर कहा कि धौलीगंगा में सैलाब आया है जिसके वह अपने दोस्तों को लेकर वहां से निकल गया। जिससे 25 लोगों की जिंदगी बच गई।

Related posts