कोरोना से ठीक हुए लोगों को 9 महीने बाद लगेगी वैक्सीन! फिर बदलेगा नियम

चैतन्य भारत न्यूज

सोमवार को ही एम्स और आईसीएमआर ने कोरोना मरीजों को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की थी। इसमें सबसे बड़ा बदलाव प्लाज्मा थेरेपी पर रोक को लेकर था। हाल ही में यह जानकारी सामने आई है कि कोरोना संक्रमित को पूरी तरह से ठीक होने के नौ माह बाद ही कोविड-19 वैक्सीन लग सकेगी।

पहले 6 महीने का सुझाव दिया था

जानकारी के मुताबिक, नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन की ओर से जल्द ही इस पर फैसला किया जा सकता है। बता दें कुछ दिन पहले ही NTAGI ने पहले छह महीने के अंतर का सुझाव दिया था। पैनल ने अब नौ महीने के लंबे अंतराल के लिए मंजूरी के लिए सरकार को सलाह दिया है।

एक्सपर्ट ग्रुप ने दिया है सुझाव

जानकारी के मुताबिक नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन ग्रुप ने कोरोना संक्रमण से रिकवरी के नौ महीने बाद ही टीका लगवाने का सुझाव दिया है। एक्सपर्ट ग्रुप की ओर से तथ्यों को देखते हुए इस तरह का सुझाव दिया गया है। भारत में कोरोना की पहली लहर के दौरान दोबारा कोविड-19 संक्रमण की दर 4.5 फीसदी तक थी। इस दौरान दोबारा संक्रमण के बीत 102 दिन का अंतर देखने को मिला था। वहीं, कुछ देशों में स्टडी में पाया गया है कि कोरोना संक्रमित के बाद 6 महीने तक इम्युनिटी रह सकती है, इसलिए इतना वक्त जरूरी है।

Related posts