कारगिल युद्ध के दौरान जब पाकिस्तानियों ने की थी माधुरी दीक्षित की मांग, कैप्टन विक्रम बत्रा ने दिया था ऐसा जवाब

vikram batra,kargil yuddh,vikram batra story,vikram batra and karan johar,vikram batra and madhuri dixit,kargil yuddh aur madhuri dixit

चैतन्य भारत न्यूज

इस वर्ष कारगिल विजय दिवस की 20वीं सालगिरह है। इस युद्ध से जुड़ी कई कहानियां और किस्से खूब प्रचलित हैं जिनमें से एक किस्सा बॉलीवुड से भी जुड़ा हुआ है। दरअसल इस किस्से का कनेक्शन बॉलीवुड अभिनेत्री माधुरी दीक्षित से है।

vikram batra,kargil yuddh,vikram batra story,vikram batra and karan johar,vikram batra and madhuri dixit,kargil yuddh aur madhuri dixit

कहा जाता है कि जब भारत और पाकिस्तान के बीच जंग छिड़ी थी उसी समय पाकिस्तान के बंकर की ओर से आवाज आई जिसमें एक पाकिस्तानी सैनिक ये कहता है कि, ‘हमें माधुरी दीक्षित दे दो, हम चले जाएंगे।’ इस दौरान पाकिस्तानी बंकर के सामने तैनात बटालियन के कैप्टन विक्रम बत्रा ने शानदार जवाब दिया।


vikram batra,kargil yuddh,vikram batra story,vikram batra and karan johar,vikram batra and madhuri dixit,kargil yuddh aur madhuri dixit

उन्होंने जबरदस्त फायरिंग करते हुए जवाब दिया कि, ‘विद लव फ्रॉम माधुरी।’ इसके अलावा इस बात पर बत्रा मुस्कुराए और अपनी AK-47 से फायर करते हुए बोले, ‘लो माधुरी दीक्षित के प्यार के साथ’ और फिर उन्होंने कई सैनिकों को मार गिराया। कारगिल के दौरान हुए इस किस्से के बाद कैप्टन बत्रा और माधुरी दीक्षित को लेकर काफी चर्चा हुई। बता दें विक्रम कारगिल युद्ध के हीरो माने जाते हैं। इतना ही नहीं बल्कि उनकी बहादुरी की तारीफ पाकिस्तान की सेना भी करती थी।

vikram batra,kargil yuddh,vikram batra story,vikram batra and karan johar,vikram batra and madhuri dixit,kargil yuddh aur madhuri dixit

खास बात यह है कि, 1997 में 13 JAK रायफल्स में बतौर लेफ्टिनेंट सेना ज्वाइन करने वाले विक्रम बत्रा दो साल के भीतर सेना में कैप्टन बन गए थे। कारगिल युद्ध के दौरान विक्रम से पाकिस्तानी सेना इतनी खौफ में थी कि, उन्हें ‘शेरशाह’ यानी शेरों का राजा नाम दिया था।

vikram batra,kargil yuddh,vikram batra story,vikram batra and karan johar,vikram batra and madhuri dixit,kargil yuddh aur madhuri dixit कहा जा रहा है कि, बॉलीवुड के मशहूर निर्देशक करण जौहर विक्रम बत्रा के जीवन पर फिल्म का निर्माण भी करने जा रहे हैं। बता दें कारगिल युद्ध के दौरान विक्रम बत्रा ने बेहद ही खतरनाक माने जाने वाले पॉइंट 5140 को पाकिस्तानी कब्जे से छुड़वाया था।

ये भी पढ़े…

ये हैं कारगिल युद्ध के वो 6 जांबाज, जिनकी शहादत के बारे में नहीं जानता कोई

मरने के बाद फिर से जी उठा था कारगिल युद्ध का यह हीरो, कृत्रिम पैर के सहारे बनाए वर्ल्ड रिकॉर्ड

कारगिल के हीरो थे लांस नायक आबिद खान, गोली लगने के बावजूद 17 पाक सैनिकों को उतारा था मौत के घाट

 

Related posts