VIDEO: वर्चुअल रिऐलिटी का कमाल, चार साल पहले मृत बेटी को मां से मिलवाया, छुआ और बात भी की

चैतन्य भारत न्यूज

सोल. यदि आपको यह पता चले कि टेक्नॉलजी की मदद से आप अपने मृत परिजनों से मिल सकते हैं, उन्हें छू सकते हैं और उनसे बातें कर सकते हैं, तो शायद आप इस बात पर विश्वास न करें, लेकिन यह सच है। ऐसा ही एक वाकया कोरिया के एक टेलिविजन शो में देखने को मिला।



इस टीवी शो का नाम है ‘मीटिंग यू’ जिसने एक मां को उनकी 7 साल की बेटी नायोन से मिलवाया जिसकी मौत साल 2016 में ही हो चुकी थी। शो में वर्चुअल रिऐलिटी का इस्तेमाल कर मां जैंग को बेटी से मिलवाया गया। कमाल की बात यह है कि टेक्नोलॉजी की मदद से मां ने न सिर्फ अपनी को छुआ बल्कि उन्होंने अपनी बेटी से बात भी की। बेटी ने मां को भरोसा दिलाया कि अब वह किसी भी प्रकार का दर्द नहीं महसूस कर रही है।

शो के दौरान नायोन की मां जैंग जी सुंग को एक पार्क में ले जाया गया। जैंग को वर्चुअल रियलिटी हैडसेट पहनाया गया था। वहीं नायोन बैंगनी रंग की फ्रॉक पहनी हुई थी। जैसे ही नायोन ने अपनी मां को देखा वह उनके पास आई और मुस्कुराते हुए बोली कि- अब उसे कोई दर्द नहीं है। इसके बाद मां-बेटी ने एक-दूसरे को छुआ भी। बेटी को देख मां की आंखों में आंसू आ गए जिसके बाद नायोन ने अपनी मां से कहा कि, ‘मां मेरा हाथ पकड़ो।’ फिर जैंग को नायोन को कहा कि, ‘मां मैं आपको बहुत याद करती हूं।’ शो के दौरान दर्शकों में बैठे नायोन के पिता और भाई-बहन भी भावुक हो गए।

जैंग अपनी बेटी को महसूस कर सके इसलिए टच सेंसिटिव ग्लव्स और ऑडियो का इस्तेमाल किया गया। मां को बेटी से मिलवाने के लिए शो मेकर्स ने वाइव वर्चुअल रिऐलिटी हेडगियर दिया था। थोड़ी देर बातचीत करने के बाद इस वर्चुअल सफर का अंत हुआ। फिर बेटी ने मां जैंग से कहा कि, ‘वह अब थक गई है और सोना चाहती है।’ मां को अपनी लाडली बेटी से एक बार फिर विदा लेना पड़ा।

नायोन के चेहरे को डिजाइन करने के लिए कोरिया की कंपनी Munhwa Broadcasting Corporation ने काफी मेहनत की। उन्होंने बच्ची के चेहरे, शरीर और आवाज को बिलकुल असली जैसे रखने के लिए पूरी मेहनत की जिससे कि मां को अपनी बेटी के करीब होने का पूरा अहसास हो सके।

Related posts