इस बार आपको पसीने से तर-बतर कर देगी गर्मी, दिल्ली में टूटा 76 सालों का रिकॉर्ड, जानिए पूरी रिपोर्ट

bihar garmi,dhara 144

चैतन्य भारत न्यूज

नई दिल्ली. दिल्ली की गर्मी ने पिछले 76 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। देश की राजधानी दिल्ली में होली के दिन अधिकतम तापमान 40.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि 76 वर्षों में मार्च में सबसे अधिक है। इस बात की जानकारी मौसम विभाग ने दी।महाराष्‍ट्र, ओडिशा, झारखंड, गुजरात, उत्‍तर प्रदेश, बिहार, राजस्‍थान, हरियाणा समेत कई राज्‍यों में पारा 40 डिग्री के आसपास या उससे ज्‍यादा रहने का अनुमान है।

इससे यह अनुमान लगाया जा रहा है क‍ि गर्मी इस साल आम आदमी को पसीने में तर करने वाली है। उत्तर प्रदेश में सोमवार को अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ जो बीते 10 वर्षों में मार्च दूसरी बार सबसे गर्म रहा। मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल बढ़ती गर्मी से राहत की उम्मीद नहीं है।

बीते कुछ दिनों से तापमान में निरंतर वृद्धि दर्ज की जा रही थी। सोमवार को बीते 10 सालों का रिकॉर्ड तोड़ते हुए अधिकतम तापमान सामान्य के मुकाबले 4 डिग्री अधिक 39 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया। एक दशक के रिकॉर्ड पर नजर डाले तो वर्ष 2017 में 30 मार्च को अधिकतम तापमान 41.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ था। इसके अलावा बीते 10 सालों में मार्च इतना गर्म कभी नहीं हुआ। जाहिर है कि बीते 10 सालों में वर्ष 2017 को छोड़ इतनी गर्मी पहले नहीं पड़ी। बीते साल 31 मार्च को अधिकतम तापमान 34.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था।

मौसम विभाग के मुताबिक, मैदानी इलाकों में जब अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक हो जाता है और सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक हो, तब उसे ‘लू’ घोषित किया जाता है। वहीं, तापमान सामान्य से 6.5 डिग्री सेल्सियस अधिक हो जाने पर प्रचंड लू की घोषणा की जाती है।

 

Related posts