इस साल होगा प्रचंड गर्मी का प्रकोप, मार्च से मई तक सताएगी तपती गर्मी, इन हिस्सों में सामान्य से अधिक रहेगा तापमान

summer season tips,summer season skin tips,summer season health tips

चैतन्य भारत न्यूज

इस बार भीषण गर्मी झेलने के लिए तैयार हो जाइए, क्योंकि मौसम विभाग ने अगले 3 महीनों का पूर्वानुमान जारी कर दिया है। अभी तो मार्च की शुरुआत ही हुई है और गर्मी का अहसास होने लगा है। उत्तर और पूर्वोत्तर भारत के अलावा देश के पूर्वी और पश्चिमी हिस्से में दिन का तापमान सामान्य से ज्यादा रहेगा।

भारतीय मौसम विभाग ने सोमवार को तीन महीनों-मार्च, अप्रैल और मई के लिए गर्मी का पूर्वानुमान जारी किया है। मार्च से लेकर मई महीने तक न दिन में राहत मिलेगी ना रात में। मौसम विभाग के एडिशनल डायरेक्टर जनरल आनंद शर्मा ने बताया कि, गर्मी का पूर्वानुमान जारी हो चुका है। इस बार अधिकतम तापमान सामान्य से ऊपर रहने वाला है, खासकर उत्तर पश्चिम भारत यानी पंजाब, राजस्थान, दिल्ली, महाराष्ट्र, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में और उत्तर पूर्वी भारत यानी बिहार, बंगाल, झारखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों में इस बार का मौसम तपाने वाला हो सकता है।

आनंद शर्मा ने बताया कि, गुजरात, सौराष्ट्र, कच्छ, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में भी इस बार अधिकतम तापमान सामान्य से ज्यादा रहने वाला है। इसके अलावा कोंकन गोवा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में भी अधिकतम तापमान सामान्य से ज्यादा रहेगा। इसके अलावा अन्य राज्यों में सामान्य या सामान्य से नीचे तापमान रहेगा।

भोपाल सहित पश्चिमी मध्यप्रदेश में ज्यादा तपेंगी रातें

इस साल भोपाल, इंदौर सहित पश्चिमी मध्यप्रदेश में रातें ज्यादा तपेंगी। यहां दिन का तापमान सामान्य औसत से 0।5 डिग्री जबकि रात का तापमान एक डिग्री ज्यादा रह सकता है। विभाग ने गर्मी के पूर्वानुमान में बताया है कि जबलपुर, सागर समेत पूर्वी मध्यप्रदेश में दिन में ज्यादा गर्मी रहेगी। यहां का तापमान सामान्य औसत से एक डिग्री तक ज्यादा रहने की आशंका है। इस साल राजधानी में अप्रैल और मई महीने में लू चलने का अनुमान है।

मौसम विशेषज्ञ वेद प्रकाश के अनुसार भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, चंबल समेत पश्चिमी मध्यप्रदेश में दिन भी ज्यादा गर्म रहेंगे। लेकिन रात में तापमान सामान्य से एक डिग्री तक ज्यादा रह सकता है। भोपाल में अप्रैल में सात से 10 दिन तक और मई में 10 से 15 दिनों तक लू चलने की स्थिति रहती है।

Related posts