क्या कहती है अभिनंदन वर्तमान की कुंडली

आइए देखें, अभिनंदन वर्तमान की कुंडली क्या कहती है

लेखक परिचय

पी.पी.एस. चावला

ज्योतिष गणनाएं, राशिफल का करीब तीस साल का अनुभव। 80 के दशक से इस विषय में लेखन कर रहे हैं। आपके लेख  ”प्लेनेट्स एंड फॉरकास्ट” पत्रिका में प्रकाशित होते रहे हैं। इसमें प्रकाशित लेख ज्योतिष में परिवर्तन योग और जन्मस्थ शनि पर गोचरस्थ शनि के संचार का प्रभाव ने अच्छी ख्याति अर्जित की थी।

अभिनंदन वर्तमान भारतीय वायुसेना में विंग कमांडर पायलट हैं। 27 फरवरी 2019 की सुबह पाकिस्तान के साथ हुई मुठभेड़ में उनका मिग -21 क्षतिग्रस्त हो गया और वह पाक अधिकृत कश्मीर में जा गिरा। पाकिस्तान ने चौतरफा दबाव के कारण 60 घंटे बाद उन्हें रिहा कर दिया।
आइए देखते हैं, भारत में इन दिनों जबरदस्त प्रसिद्धि पा रहे अभिनंदन जन्म दिनांक से बनी चंद्र कुंडली (चूंकि जन्म का समय उपलब्ध नहीं है) क्या कहती है।
21 जून 1983 को जन्मे अभिनंदन की चंद्र कुंडली में शनि चंद्र की युति तुला राशि में है। शनि तुला राशि में उच्च का है एवं यह यहां पंच महापुरुष योग बनाता है।

चंद्र और शुक्र का परिवर्तन योग बना रहा है चंद्र

शुक्र की राशि तुला में और शुक्र चंद्र की राशि कर्क में स्थित है। परिवर्तन योग का सामान्य सिद्धांत है, असफलता के बाद पुनः जोरदार वापसी पहले से ज्यादा सशक्त होकर। ऐसा ही हुआ जब वे पकडे गए और जल्दी ही उन्हें पाकिस्तान सरकार ने छोड़ने का ऐलान किया और तो वे पूरे भारत के नायक बनकर वापस आए।

चूंकि उनकी राशि तुला है अतः अभी तुला राशि का गोचर भी अत्यंत श्रेष्ठ चल रहा है। द्वितीयस्थ गुरु तृतीयस्थ शनि, शुक्र दशमस्थ, राहु सप्तम, मंगल पंचम, सूर्य षष्ठ, बुध एवं चंद्रमा द्वितीयस्थ गोचर में था। गोचर में मेष राशि के मंगल की गुरु पर स्व-दृष्टि है जो कि महत्वपूर्ण है।

कुंडली में गुरु वृश्चिक राशि में स्थित है। मंगल राहु की युति है। साथ में सूर्य है, बुध वृषभ राशि में है। मंगल साथ में रहने पर राहु के फल नियंत्रण में रहते हैं।

वर्ष कुंडली में केतु मंगल- मकर राशि में स्थित है। वर्ष कुंडली में केतु की मुद्दा दशा चल रही थी इसलिए केतु ने भी उच्चवत फल दिया और अभिनंदन ने अभूतपूर्व साहस एवं समझदारी का परिचय दिया।

चंद्रमा से केंद्र में शुक्र की स्थिति, तृतीयेश गुरु के वृश्चिक राशि में होने से काहल योग का भी निर्माण करती है। जो जातक को साहस, पराक्रम आदि जैसे गुण प्रदान करता है। जिसके चलते ऐसे जातक पुलिस बल, सेना बल तथा अन्य प्रकार के सुरक्षा बलों में सफल देखे जाते हैं।

21 जून 1983 को जन्मे अभिनंदन के लिए अंक ज्योतिष  से भी अत्यंत प्रभावी वर्ष है। उनका शुभांक 3, जन्मांक 3, वर्ष अंक 3, 36वां वर्ष तथा 2019 जिसका योग 3 होता है। यह सब अत्यंत शुभ है।

ईश्वर से उनके साहस को निरंतर बढ़ाने की प्रार्थना एवं निरंतर ऊंचाई प्राप्त करने की प्रार्थना एवं लंबी आयु की कामना है।

Related posts