देश सेवा के लिए धोनी की तरह आप भी ज्वाइन कर सकते हैं टेरिटोरियल आर्मी, लेकिन यह है शर्त

ms dhoni

चैतन्य भारत न्यूज

अगर आप भी भारतीय टीम के दिग्गज विकेटकीपर और बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी की तरह पूरे हक के साथ आर्मी की वर्दी पहनना चाहते हैं, उनके साथ रहना चाहते हैं, उनके जैसे ट्रेनिंग करना चाहते हैं, सैनिकों के साथ एक ही मैस में भोजन करना चाहते हैं तो आप अपने ये सभी सपने पूरे कर सकते हैं। जी हां… देश की सुरक्षा के लिए आप भी गश्त लगा सकते हैं और इसके लिए आपको सैलरी भी मिलेगी।

धोनी को तो सम्मान स्वरूप टेरिटोरियल आर्मी (territorial army) में लेफ्टिनेंट कर्नंल का पद दिया गया, लेकिन आप भी इसका हिस्सा बिना किसी कठिन परीक्षा के बन सकते हैं। बता दें धोनी के अलावा हमारे देश में 40 हजार ऐसे लोग हैं जो अपने काम से ब्रेक लेकर सैनिक बनते हैं और देश की रक्षा का जिम्मा उठाते हैं। इनमें नेता और बिजनेसमैन तक शामिल हैं।

ये लोग हो सकते हैं शामिल

भारतीय सेना का एक अहम हिस्सा टेरिटोरियल आर्मी से हर वो व्यक्ति जुड़ सकता है, जो शारीरिक और मानसिक तौर पर फिट ‌हों। इतना ही नहीं बल्कि वह व्यक्ति आर्मी में लेफ्टिनेंट के तौर पर भी शामिल हो सकता है। लेकिन इसमें शामिल होने की भी एक शर्त है। वो शर्त ये है कि आपके पास अपना कमाई का भी एक जरिया होना चाहिए। दरअसल यह कोई पक्की नौकरी नहीं है। आप इसे सिर्फ एक वॉलंटियर सर्विस के तौर पर मान सकते हैं। इसमें जब तक आर्मी को जरूरत महसूस होगी, तब तक ही वह आपसे सर्विस लेगी। इस आर्मी में शामिल होने के लिए उम्र 18 से 42 के बीच होनी चाहिए।

क्या है टेरिटोरियल आर्मी 

टेरिटोरियल आर्मी भी भारतीय सेना का ही एक अहम हिस्सा होती है। आर्मी को जब भी कभी जरूरत होती है, तो वह उस जगह पर टेरिटोरियल आर्मी की एक यूनिट भेजती है। टेरिटोरियल आर्मी खासतौर से कश्मीर के लोगों के लिए बनाई गई है।

ये हैं पढ़े… 

19 किलो सामान के साथ गश्त करेंगे धोनी, 15 दिन तक सैनिकों के साथ एक ही बैरक में रहेंगे

सेना की खतरनाक विक्टर फोर्स के साथ 15 दिन तक ट्रेनिंग करेंगे धोनी

अगले 2 महीने तक क्रिकेट से दूर सैनिकों के साथ रहेंगे धोनी, संन्यास लेने से किया इनकार

Related posts