99 साल तक जीवित रही इस महिला के सभी अंग थे उलटे-पुलटे, देहदान के बाद पता चली सच्चाई

rose marie bentley,rose marie bentley body,america

टीम चैतन्य भारत

यदि हमारे शरीर का कोई अंग ना हो या फिर कोई अंग गलत स्थान पर हो तो इससे काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। हम आपको आज एक ऐसी महिला के बारे में बता रहे हैं जिसके शरीर के ज्यादातर अंदरूनी अंग गलत दिशा में स्थित थे। ये मामला अमेरिका का है जहां रोज मेरी बेंटली नाम की महिला के शरीर के ज्यादातर अंग सही जगह पर नहीं थे। हैरानी वाली बात यह है कि महिला ने उलटे-पुलटे अंगों के साथ ही 99 साल तक सेहतमंद जिंदगी जी ली।

rose marie bentley

शरीर में गलत अंग देख चौंक गए मेडिकल छात्र

महिला के शरीर के अंग गलत होने का पता तब चला जब महिला का शरीर उनके देहांत के बाद मेडिकल के छात्रों के एक समूह को दिया ताकि वह मानव शरीर की संरचना को समझ सकें। जब छात्रों ने देखा कि बेंटली के शरीर का कोई भी अंग सही जगह पर नहीं था तो वह चौंक गए। बता दें बेंटली का सिर्फ हृदय ही सही जगह था। इस बारे में प्रोफेसर कैमरन वॉकर ने बताया कि, ‘बेंटली जैसा शरीर 5 करोड़ में से किसी एक इंसान का होता है।’

सभी अंगों के साथ ही महिला का पाचन तंत्र भी था उल्टा

रोज मेरी बेंटली का शरीर पोर्टलैंड की ओरेगोन हेल्थ एंड साइंस यूनिवर्सिटी में प्रयोग के लिए पहुंचा था। एनाटॉमी के छात्र नीलसन ने बताया कि, ‘उनके दिल में एक बड़ी नस गायब थी, जो सामान्य तौर पर दाईं ओर होती है, लेकिन वह बाईं ओर थी। साथ ही महिला के दाहिने फेफड़े में तीन के बजाय सिर्फ दो लोब (हिस्सा) थे, जबकि उसके दिल का दाहिना एट्रीअम सामान्य आकार से दोगुना था।’ उन्होंने आगे बताया कि, ‘बाईं ओर पेट होने के बजाय, बेंटली का पेट दाईं ओर था और उनका जिगर, जो सामान्य रूप से दाईं ओर होता है, वह बाईं ओर था। साथ ही बेंटली का तो पाचन तंत्र भी उल्टा था।’

गलत अंग के बावजूद स्वस्थ रहीं बेंटली

जानकारी के मुताबिक, रोज मेरी बेंटली का जन्म साल 1918 में हुआ था। उनकी बेटी जिंजर रॉबिन्स ने बताया कि, उनकी मां को कभी किसी प्रकार की दिक्कत नहीं हुई और वह हमेशा ही स्वस्थ रहीं हैं। उन्होंने यह भी बताया कि, बेंटली बहुत अच्छी तैराक थीं। बेंटली वैसे तो पेशे से हेयरड्रेसर थीं लेकिन उनकी रुचि विज्ञान में भी थी। बेंटली ने दूसरे विश्व युद्ध के दौरान नर्स एड कॉर्प में वॉलेंटियर भी किया था। बेंटली ने उनके बच्चों को कहा था कि, उन्हें जिंदगी में शिक्षा के अच्छे अवसर नहीं मिले वरना वह एक अच्छी नर्स होतीं।

ये भी पढ़े…

महिला की आंख में 4 मधुमक्खियों ने बना लिया घर, पी गईं सारे आंसू

महिला ने आम के पेड़ पर चढ़कर दिया बच्ची को जन्म

3 महीने पहले महिला का हो गया था ब्रेन डेड, अब दिया स्वस्थ बच्चे को जन्म

Related posts