काम का तनाव जल्दी बुलाता है बुढ़ापे को

work pressure,old age

चैतन्य भारत न्यूज

वाशिंगटन. वर्तमान समय में करियर और नौकरी की चुनौतियां इतनी बढ़ गई हैं कि लोग भागमभाग में जुटे रहते हैं। चाहे वह कोई भी क्षेत्र हो निजी नौकरी हो या प्रोफेशनल काम प्रत्येक व्यक्ति सफल होने के लिए समय, दिन-रात देखे बिना काम में लगा रहता है। इन सबके चलते कई बार उन्हें तनाव हो जाता जिसका सीधा असर उनके स्वास्थ्य पर दिखाई देने लगता है।

अमेरिका की मिशिगन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं का कहना है कि काम के चलते होने वाले तनाव और ठीक ढंग से नींद न ले पाने से व्यक्ति की शारीरिक क्षमता घटने लगती है और उनमें उम्र से पहले ही बुढ़ापे के लक्षण दिखने लगते हैं। कई लोगों के बाल सफेद होने लगते हैं तो कुछ का पाचन तंत्र व आंखों की रोशनी कमजोर हो जाती है। ऐसे में जरूरी है कि वे रात-दिन की अनियमित शिफ्ट और घंटों में काम करने से बचें।

छह गुना तेजी से बूढ़े होने लगते हैं लोग

शोधकर्ता ने अपने अध्ययन में पाया कि काम को लेकर तनाव में रहने वाले अन्य लोगों के मुकाबले छह गुना अधिक तेजी से बूढ़े होते हैं। अपनी बात पुष्ट करने के लिए उन्होंने 250 युवा डॉक्टरों पर शोध किया। उन सभी के टेलोमेरेस की लंबाई का पता लगाने के लिए उनकी लार (सलाइवा) का नमूना इकट्ठा किया गया था। टेलोमेरेस क्रोमोजोम के सिरे पर मौजूद रहकर डीएनए को सुरक्षित रखते हैं। युवा व बच्चों में तनाव बढ़ने से इनकी लंबाई कम होती जाती है। टेलोमेरेस की लंबाई का कम होना डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर व हृदय संबंधी रोगों के साथ ही समय से पहले बूढ़े होने का भी कारक है। शोध में वैज्ञानिकों ने पाया कि लगातार कई घंटों तक काम करने और तनाव के चलते टेलोमेरेस की लंबाई तेजी से कम होती जाती है।

जीवनशैली में सुधार लाने की आवश्यकता

शरीर को स्वस्थ रखने और बुढ़ापे के लक्षणों को कम करने के लिए जीवनशैली में सुधार किया जाना बेहद जरूरी है। यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन में प्रोफेसर डॉ. सिरीजन सेन के मुताबिक किसी भी व्यक्ति को घंटों लगातार काम करने से बचना चाहिए। खानपान में बदलाव के साथ दिन में छह से आठ घंटे की नींद लेना भी जरूरी है।

ये भी पढ़े…

खूबसूरत व चमकदार त्वचा पाने के लिए यदि ज्यादा पानी पीते हैं तो हो जाइए सावधान, हो सकती हैं ये बड़ी समस्याएं

आखिर क्यों शर्म से लाल हो जाता है चेहरा? जानिए इसका वैज्ञानिक कारण

बढ़ती उम्र में ब्लड प्रेशर का हाई होना सामान्य, इन खास बातों का रखें ध्यान

 

Related posts