चीन में खुला दुनिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट, 100 फुटबॉल मैदान के बराबर, ऊपर उड़ेगा प्लेन और नीचे चलेगी ट्रेन

daxing airport

चैतन्य भारत न्यूज

चीन में दुनिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट बना है। राजधानी बीजिंग में बने इस एयरपोर्ट का उद्घाटन बुधवार को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने किया है। साथ ही राष्ट्रपति ने इसके औपचारिक रूप से खोले जाने की घोषणा भी की है। बता दें चीन में कम्युनिस्ट शासन के 70 साल पूरे होने पर इस एयरपोर्ट को शुरू किया है। दुनिया के इस सबसे बड़े एयरपोर्ट का नाम दाक्सिंग एयरपोर्ट रखा गया है। यह बीजिंग में दाक्सिंग जिले और लांगफांग की बॉर्डर पर बना है।



Beijing Daxing International Airport

सूत्रों के मुताबिक, यह एयरपोर्ट 173 एकड़ में बनकर तैयार हुआ है। यह 100 फुटबॉल के मैदानों के बराबर है। एयरपोर्ट दिखने में किसी स्टारफिश या फिर अंतरिक्षयान की तरह है। इसके चारों और रनवे बनाए गए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस एयरपोर्ट से हर साल करीब 10 करोड़ यात्री यात्रा करेंगे और यहां से हर साल लगभग 40 लाख टन कार्गो और अन्य सामान की ढुलाई होगी। हालांकि, इस एयरपोर्ट को पूरी क्षमता से काम करने में साल 2040 तक का समय लग जाएगा।

Beijing Daxing International Airport

उद्घाटन के बाद इस एयरपोर्ट से पहले विमान ने गुआंगझू शहर के लिए उड़ान भरी है। सूत्रों के मुताबिक, दाक्सिंग एयरपोर्ट को ब्रिटेन के आर्किटेक्ट जाहा हदीद ने डिजाइन किया है। साल 2016 में दुर्भाग्यवश उनकी मौत हो गई। इस एयरपोर्ट को बनाने में 1 लाख 24 हजार करोड़ रुपए (120 बिलियन युआन या 17.5 बिलियन डॉलर) की लागत आई है। एयरपोर्ट का निर्माण कार्य 2015 में ही शुरू हो गया था। इस एयरपोर्ट की एक और खास बात यह है कि इसके नीचे एक ट्रेन स्टेशन और मेट्रो लाइन भी बनी है। यह यात्रियों के लिए बेहद सुविधाजनक होगी। दरअसल, इसके जरिए यात्री बहुत जल्द ही शहर के अंदर पहुंच जाएंगे।

Beijing Daxing International Airport

Related posts