विश्व डायबिटीज दिवस : जानें कितनी खतरनाक बीमारी है डायबिटीज, बेहद खास है इस बार की थीम

world diabetes day

चैतन्य भारत न्यूज

डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जो दुनिया के हर दूसरे व्यक्ति को अपनी चपेट में ले रही है। इसको लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 14 नवंबर को ‘विश्व डायबिटीज दिवस’ मनाया जाता है। इस दिन लोगों में डायबिटीज होने के कारण, लक्षण और इसके उपचार के अलावा डायबिटीज से जुड़ी सावधानियों के बारे में जागरुकता बढ़ाने के लिए सरकारी और गैर सरकारी संगठनों द्वारा कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।


विश्व डायबिटीज दिवस का इतिहास

अंतरराष्ट्रीय मधुमेह संघ (IDF) और विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा साल 1991 में इस दिन को मनाने की शुरुआत की गई थी। हर साल विश्व डायबिटीज दिवस पर विश्व स्वास्थ्य संगठन और अंतरराष्ट्रीय मधुमेह महासंघ मिलकर लोगों को डायबिटीज से होने वाले दुष्प्रभाव के बारे में जागरुक करने के लिए वैश्विक स्तर पर कई कार्यक्रमों का आयोजन करते हैं। करीब 200 से अधिक देश एक साथ मिलकर जागरुकता अभियान चलाते हैं। इनमें गैर सरकारी संगठन, एक्सपर्ट्स और आम लोग शामिल होते हैं।

14 नवंबर को विश्व डायबिटीज दिवस मनाने की वजह 

वर्ल्ड डायबिटीज डे 14 नवंबर को इसलिए मनाया जाता है क्योंकि इस दिन इंसुलिन की खोज करने वाले फ्रेडरिक बैंटिंग नामक वैज्ञानिक का जन्म हुआ था। बता दें फ्रेडरिक बैंटिंग ने साल 1922 में चार्ल्स बेस्ट के साथ मिलकर डायबिटीज में इंसुलिन (कृत्रिम शुगर विकल्प) की खोज की थी।

विश्व डायबिटीज दिवस 2019 की थीम

विश्व डायबिटीज दिवस की साल 2019 की थीम ‘द फैमिली एंड डायबिटीज’ रखी गई है। डायबिटीज के मरीजों को इसके दुष्प्रभावों से बचाने में परिवार की अहम भूमिका होती है। इसी को ध्यान में रखते हुए इस साल की थीम निर्धारित की गई है।

क्या है डायबिटीज

बता दें डायबिटीज, शरीर में इंसुलिन की मात्रा कम होने की स्थिति को कहा जाता है। आसान भाषा में इसे समझा जाए तो हमारे रक्त में शामिल शुगर की मात्रा बढ़ने पर होने वाली बीमारी को डायबिटीज कहा जाता है। इस बीमारी से ग्रसित मरीजों को आमतौर पर कम मीठा खाने की सलाह दी जाती है, जिससे कि उनके शरीर में मौजूद इंसुलिन की मात्रा को नियंत्रित किया जा सके। शरीर में शुगर के स्तर के बढ़ने से आंखों, दिल और किडनी पर भी बेहद बुरा असर पड़ता है। ऐसे में हमेशा शरीर में मौजूद इंसुलिन की मात्रा को नियंत्रण में रखना जरुरी होता है।

ये भी पढ़े… 

बिना सोच-विचार किए ये चीजें खा सकते हैं डायबिटीज के मरीज, नहीं बढ़ेगी शुगर

आखिर क्या होती है वीगन डाइट? जिसे फॉलो करने का चल रहा है ट्रेंड, जानें इसके फायदे और नुकसान

आखिरकार हिचकी आने की वजह पता कर ली वैज्ञानिकों ने, याद आने से कोई संबंध नहीं

Related posts