World laughter Day : हंसने से 100 से अधिक मांसपेशियों को लाभ, रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है

चैतन्य भारत न्यूज

प्रतिवर्ष मई के पहले रविवार को ‘विश्व हास्य दिवस’ (World laughter Day) मनाया जाता है। ये दिन लोगों को खुश रहने के लिए बनाया गया है। हंसने से तनाव को कोसों दूर भगाया जा सकता है। इतना हीं ये एक ऐसी दवा है जिससे तमाम बीमारियों को खत्म किया जा सकता है। इस समय पूरी दुनिया कोरोना वायरस से जूझ रही है, ऐसे में सबका का खुश रहना बेहद जरूरी है। इसलिए आज का दिन बहुत खास है।

विश्व हास्य दिवस का इतिहास

वर्ल्ड लॉफ्टर डे 11 जनवरी 1998 को पहली बार मनाया गया था। जिसकी शुरूआत डॉ. मदन कटारिया ने की थी। कटारिया हास्य योग आंदोलन के संस्थापक थे। इसे मनाने के पीछे सबसे बड़ा उद्देश्य यह था कि समाज में बढ़ते तनाव को कम कैसे किया जाए? ताकि लोग घरों में अपनी फैमिली आसपास के लोगों के साथ खुशी से रह सकें।

विश्व हास्य दिवस का उद्देश्य

विश्व हास्य दिवस की शुरुआत विश्व में शांति की स्थापना और मानवमात्र में भाईचारे और सदभाव के उद्देश्य से की गई है। इस दिवस की लोकप्रियता ‘हास्य योग आंदोलन’ के माध्यम से पूरी दुनिया में फैल गई। आज पूरे विश्व में छह हज़ार से भी अधिक हास्य क्लब हैं। इस मौके पर देश और विदेश के प्रमख शहरों में रैलियां, हास्य प्रतियोगिताएं एवं सम्मेलनो का आयोजन किया जाता हैं। हास्य मनुष्य के विद्युत-चुंबकीय क्षेत्र को प्रभावित करता है और व्यक्ति में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करता है। जब व्यक्ति समूह में हंसता है तो यह सकारात्मक ऊर्जा पूरे क्षेत्र में फैल जाता है और क्षेत्र से नकारात्मक ऊर्जा को हटाता है।

laugh

हंसने से 100 से अधिक मांसपेशियों को लाभ

एक रिपोर्ट के मुताबिक, हंसने से शरीर की 100 से अधिक मांसपेशियों और श्वसन तंत्र पर सकारात्मक असर होता है। यह भी एक व्यायाम है। हास्य योग का अच्छा प्रभाव हृदय पर भी होता है। इतना ही नही बल्कि यह तनाव, निम्न रक्त व उच्च रक्तचाप, मधुमेह जैसे रोगों में लाभ पहुंचाता है। ब्लड फ्लो सही रहने से शरीर की कोशिकाओं तक पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचती है। हंसते-हंसते आंखों से आंसू निकलने से आंखों की सफाई होती है। साथ ही हंसने से अतिरिक्त कैलोरी भी बर्न होती है जिससे मोटापा घटता है। इसके अलावा तनाव को बढ़ाने वाला स्ट्रेस हार्मोन कॉर्टिसोल का स्तर घटता है। मेटाबोलिज्म में भी सुधार होता है।

खुश रहने के फायदे

  • खुश रहने से मानसिक तनाव में कमी होती है।
  • खुश रहने से शरीर की बीमारी से लड़ने शक्ति बढ़ती है।
  • खुश रहने से हार्ट अटैक की आशंका कम रहती है।
  • खुश रहने से रिश्ते में मजबूती बढ़ती है।
  • काम करने में मन लगता है।
  • खुश रहने से शरीर का दर्द कम होता है।
  • खुश रहने से चेहरे पर निखार आता है।

Related posts