विश्व दूरसंचार और सूचना समाज दिवस क्यों मनाया जाता है? इंटरनेट ने पूरी दुनिया को एक सूत्र में जोड़ा

चैतन्य भारत न्यूज

हर वर्ष 17 मई विश्व दूरसंचार दिवस और सूचना समाज दिवस (World Telecommunication Day or Information Society Day) मनाया जाता है। आधुनिक युग में फोन, मोबाइल और इंटरनेट लोगों की प्रथम आवश्यकता बन गये हैं। इसके बिना जीवन की कल्पना करना बहुत ही मुश्किल हो चुका है। दूरदराज के इलाकों में रहने वाले लोगों को सूचना और संचार प्रौद्योगिकी सुलभ कराना ही इस दिन को मनाने का उद्देश्य है। इस दिन सूचना और संचार प्रौद्योगिकी के फायदों के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा की जाती है।

विश्व दूरसंचार दिवस का इतिहास

‘विश्व दूरसंचार दिवस’ मनाने की परंपरा 17 मई, 1865 में शुरू हुई थी। यह दिन अंतर्राष्ट्रीय दूरसंचार संघ की स्थापना और वर्ष 1865 में पहले अंतर्राष्ट्रीय टेलीग्राफ समझौते पर हस्ताक्षर होने की स्मृति में मनाया जाता है। महासभा ने मार्च 2006 में एक प्रस्ताव (ए/आरईएस/60/252) को अपनाया, जिसमें कहा गया है कि विश्व सूचना समाज दिवस 17 मई को हर साल मनाया जाएगा।

विश्व दूरसंचार और सूचना समाज दिवस क्यों मनाया जाता है?

विश्व दूरसंचार और सूचना समाज दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य इंटरनेट, अन्य सूचना और संचार प्रौद्योगिकियों (ICT) का उपयोग करने की जागरूकता को बढ़ाना तथा समाज और अर्थव्यवस्था में लाना और डिजिटल विभाजन को कम करना है।

दूरसंचार क्या है?

एक एक संचार प्रणाली होती है जिसे किसी केबल, टेलीग्राफ या प्रसारण माध्यम द्वारा दूर बैठे व्यक्ति से संपर्क करने के लिए उपयोग किया जाता है. इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी, उत्पादन और निर्यात दोनों के संदर्भ में भारतीय उद्योग के सबसे तेजी से बढ़ते क्षेत्र हैं. मौजूदा समय में इंटरनेट और मोबाइल दूरसंचार के सबसे प्रमुख उपकरण हैं।

इंटरनेट की महत्ता

वर्तमान समय में दूरसंचार का एक बहुत बड़ा हिस्सा इंटरनेट है। इसमें कोई शक नहीं है कि जिन लोगों की पहुंच इंटरनेट तक है, उनके जीवन में एक बड़ा बदलाव देखने को मिला है। इंटरनेट ने उनके जीवन को काफ़ी सरल बना दिया है। इसके जरिए हम असंख्य सूचनाओं को पलक झपकते ही मात्र कुछ चंद सेकेंड में प्राप्त कर लेते हैं। इंटरनेट सिर्फ सूचनाओं के लिहाज से ही नहीं, बल्कि सोशल नेटवर्किग से लेकर स्टॉक एक्सचेंज, बैंकिंग, ई-शॉपिंग आदि के लिए अब अहम बन चुका है। इसके लिए यदि किसी को सबसे अधिक श्रेय देना चाहेंगे तो गूगल जैसे सर्च इंजन इसके हकदार हैं। गूगल के ई-मेल, चैटिंग, वीडियो और वॉयस चैटिंग आदि से हजारों किलोमीटर की दूरियां सिमट कर अब चंद सेकेंड के फासले में बदल गई हैं।

ये भी पढ़े…

International Nurses Day: आखिर क्यों 12 मई को मनाया जाता है नर्स दिवस? जानिए इसका इतिहास और महत्व

विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस: समाज का आईना होता है प्रेस, जानें 3 मई को ही क्यों मनाया जाता है यह दिवस

मजदूर दिवस 2020: जानें क्यों मनाया जाता है यह दिवस, क्या है इसका इतिहास, महत्‍व और मनाने का तरीका

Related posts