विश्व शौचालय दिवस : दुनियाभर के 2 अरब लोगों के पास टॉयलेट की सुविधा नहीं, भारत में बने 9 करोड़ से ज्यादा शौचालय

world toilet day 2019

चैतन्य भारत न्यूज

हर साल 19 नवंबर को ‘विश्व शौचालय दिवस’ (World Toilet Day) मनाया जाता है। एक आंकड़े के मुताबिक, पूरी दुनिया में तकरीबन एक अरब के आसपास की आबादी आज भी खुले में शौच करती हैं। इसलिए विश्व शौचालय दिवस को दुनियाभर में अब अलग नजरिया से देखा जा रहा है।



आज के दिन दुनिया भर के कई देशों में शौचालय से जुड़ी साफ-सफाई को लेकर लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए अभियान भी किए जाते हैं। इसके साथ ही लोगों को शौचालय का महत्व भी बताया जाता है। टॉयलेट की समस्या कितनी विकराल है इसका अंदाजा आपको इससे हो जाएगा कि अफगानिस्तान में 90 फीसदी अबादी के पास टेलीविजन भले ही हो मगर यहां की कुल 7 फीसदी आबादी के पास ही टॉयलेट की सुविधा उपलब्ध है। आइए जानते हैं विश्व शौचालय दिवस से जुड़ी कुछ खास बातें।

विश्व शौचालय दिवस की शुरुआत

विश्व शौचालय दिवस की शुरुआत विश्व शौचालय संगठन द्वारा 2001 में हुई थी। लेकिन इस संगठन में जागरूकता तकरीबन 12 साल बाद आनी शुरू हुई। यानी साल 2013 में इस संगठन को लेकर लोगों ने तेजी से काम करना शुरू किया था। जहां तक भारत की बात है तो साल 2014 के बाद से केंद्र सरकार के प्रयासों से इसे लेकर भारत में तेजी से जागरूकता फैली।

भारत की 100% आबादी शौचालय का इस्तेमाल करने लगी  

स्वच्छ भारत मिशन की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, 2 अक्टूबर 2014 को भारत की 38.7% आबादी ही शौचालय का इस्तेमाल करती थी। लेकिन 2 अक्टूबर 2019 तक देश की 100% आबादी शौचालय का इस्तेमाल करने लगी। ग्रामीण इलाकों में अब तक 9 करोड़ से ज्यादा शौचालय बन चुके हैंं। सरकार की कोशिश है साल 2019 में और भी ग्रामीण क्षेत्र में शौचालय का निर्माण हो।

2 अरब लोगों के पास टॉयलेट की सुविधा नहीं

जानकारी के मुताबिक, खुले में शौच करने से बीमारी की चपेट में आने वाले लोगों में हर साल 6 लाख लोगों की मौत हो जाती है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक, दुनिया की 74% आबादी (5.5 अरब लोग) बेसिक सेनिटेशन सर्विस का इस्तेमाल कर पाती है। 2 अरब लोगों के पास टॉयलेट की सुविधा नहीं है। ऐसे में उन्हें सार्वजनिक शौचालयों का इस्तेमाल करना पड़ता है। जबकि 67.3 करोड़ लोग ऐसे हैं, जो आज भी खुले में शौच करने को मजबूर हैं।

ये भी पढ़े…

35 करोड़ रुपए का सोने से बना टॉयलेट हुआ चोरी, डोनाल्ड ट्रंप को दिया था उधार

देश के पहले ‘टॉयलेट कॉलेज’ से पास हुए 3,200 लोग, रोजगार भी मिला

टॉयलेट में सेल्फी लेने के बदले 51 हजार मिलने की खबर सुनते ही सभी दूल्हे पहुंच गए बाथरूम, मप्र सरकार बोली- ऐसी कोई योजना नहीं….

Related posts