देवी-देवताओं पर अभद्र टिप्पणी करने वाली हीर खान गिरफ्तार, रिश्तेदार के घर में छुपकर बैठी थी आरोपी

चैतन्य भारत न्यूज

प्रयागराज. सोशल मीडिया के माध्यम से देवी-देवताओं पर अभद्र टिप्पणी करने वाली मुस्लिम युवती हीर खान को प्रयागराज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ आज लखनऊ में केस दर्ज किया गया था, जबकि प्रयागराज में पहले से ही एक केस दर्ज था। वह प्रयागराज में अपने एक रिश्तेदार के घर पर छुपी बैठी थी, जहां से पुलिस ने उसे ढूंढ निकाला।

माता सीता के लिए किया था अश्लील भाषा का इस्तेमाल

हीर खान अपना यू-ट्यूब चैनल चलाती है, जिस पर उसने एक वीडियो पोस्ट किया था। उसने हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की थी। वीडियो वायरल होने के बाद से ही सोशल मीडिया में हीर खान की गिरफ्तारी के लिए मांग उठी थी। बता दें हीर खान का ‘ब्लैक डे 5 अगस्त’ नाम से एक यू-ट्यूब चैनल है। उसने 23 अगस्त को यूट्यूब पर एक वीडियो पोस्ट किया था, जिसमें हिंदू-देवताओं पर अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया गया था। अपने वीडियो में हीर खान ने ये भी दावा किया था कि अगर कोई इस्लाम के खिलाफ कुछ बोला तो मुस्लिम चुप नहीं बैठेंगे। उसका ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। हाल ही में उसने जो वीडियो पोस्ट किया था उसमे हीर ने माता सीता पर कमेंट किया गया था। इसके अलावा अयोध्या के बारे में भी कहा गया था। मुकदमा दर्ज होने के बाद से हीर खान फरार हो गई थी। पुलिस उसे तेजी से खोज रही थी।

आवाज उठाने वालों को दी घर की महिलाओं के साथ रेप की धमकी

इतना ही नहीं बल्कि 24 अगस्त को अपलोड किए गए एक और वीडियो में हीर खान ने यह दावा किया था कि वह पिछले दो सालों से हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रही है, लेकिन किसी ने भी उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं की। वीडियो में वो ये भी धमकी देती नजर आती है कि अगर किसी ने भी उसके और इस्लाम के खिलाफ कुछ भी कहने की हिम्मत की, तो उनके परिवार की महिलाओं के साथ रेप किया जाएगा। हीर खान अपने वीडियो में हाल ही में हुए बेंगलुरु दंगों का भी जिक्र करती है।

इस वजह से यूट्यूब चैनल का नाम रखा ‘ब्लैक डे 5 अगस्त’

हीर खान के यू-ट्यूब चैनल ‘ब्लैक डे 5 अगस्त’ पर इस साल 4 जनवरी से वीडियो अपलोड करने का काम शुरू किया जाता है। अपने ज्यादातर वीडियो में वह अपना चेहरा ढंकी रहती है। हालांकि शुरू में जो उसने दो वीडियो पोस्ट किए उसमें उसका चेहरा देखा जा सकता है। अपने यू-ट्यूब चैनल के जरिए हीर खान नफरत फैलाने का काम करती है। बता दें 5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का भूमिपूजन कार्यक्रम था और इसके विरोध में ही उसने अपने चैनल का नाम भी ‘ब्लैक डे 5 अगस्त’ रखा। हीर खान एक इस्लामिक कट्टरपंथी महिला है जो सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए अपने चैनल पर भड़काऊ वीडियो अपलोड करती है।

हीर खान के खिलाफ किन धाराओं में केस

यूपी पुलिस ने हीर खान के खिलाफ इंडियन पेनल कोड के सेक्शन 153-A, 505 और इन्फॉर्मेशन टेक्लनॉलजी ऐक्ट के सेक्शन 66 के तहत केस दर्ज किया गया है। उसकी गिरफ्तारी के बाद प्रयागराज के एसएसपी ने इस तरह के सभी अराजक तत्वों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर कोई भी धार्मिक भावनाओं को आहत करने या धार्मिक वैमनस्य फैलाने की कोशिश करेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Related posts